Entertainment

विडियो महिला टीचर ने 11 वर्ष के मासूम को बनाया अपना शिकार, बच्चो के सामने ये विडियो ना देखे

यदि छोटे अपराध करने वाले अपराधियो को पहले ही न रोका जाये तो आगे चल कर वो बड़े अपराधी बन जाते है और कई संगीन वारदातो को अंजाम भी देते है | वैसे भी आज कल चाइल्ड एब्यूज़ की वारदाते पूरे विश्व में ही एक गंभीर समस्या बनती जा रही है| इसके इलावा छोटे बच्चो के खिलाफ होने वाले अपराधों का ग्राफ इस लिए भी तेज़ी से बढ़ता जा रहा है, क्योकि अपराधी प्रवर्ति के लोगो को छोटे बच्चो को शिकार बनाना आसान लगता है| अब अगर ऐसी किसी घटना को लोगों द्वारा अनदेखा किया जाता है, तो इन अपराधियो के हौसले और भी बढ़ते जाते है|

जरुरी सूचना  : यदि आप का कोई  बिज़नस है और आप बिज़नस को ऑनलाइन बढाने के लिए वेबसाइट बनाना चाहते हो तो हमें मेल भेजे ।और कुछ भी जैसे web hosting; webdesing सबन्धित सलाह हेतु मेल करे। साथ ही अपने contact number भी भेजे ।
Mail Id:
  info@shanuinfotech.com 

दरअसल इस वीडियो में दिखाया गया है, कि कैसे ट्यूशन पढ़ाने वाली एक टीचर अपने 11 वर्ष के छात्र के साथ यौन शोषण करती है और इस महिला टीचर की दरिंदगी केवल यही नहीं रूकती| इसके बाद वो इस बच्चे को धमकी भी देती है, कि अगर उसने यह राज किसी को भी बताया तो अच्छा नहीं होगा|

 

 

गौरतलब है, कि भारत में भी बच्चो के खिलाफ हुए अपराधों में कई गुना वृद्धि हुई है| इसलिए तो आये दिन न्यूज़ मीडिया में गाँव हो या शहर पर बच्चो के खिलाफ यौन अपराध को लेकर वारदाते सामने आती ही रहती है| ऐसे में बच्चे तो अबोध होते है, इसलिए उनको इतना ज्ञान नहीं होता, कि वो कब किस का शिकार बन जाये| ऐसे में ये समस्या इतनी गंभीर हो चुकी है, कि अब अभिभावकों को अपने बच्चो को ऐसे अपराधियो से बचाने के बारे में गंभीरता से सोचना ही चाहिए |

 

आपको बता दे कि जो अपराधी बच्चो के साथ यौन शोषण करते है, उनको मेडिकल की भाषा में पीडोफीलिया का मरीज कहते है| ऐसे लोगो को बच्चो के साथ यौन संबंध बनाने में ज्यादा आनंद आता है| इसलिए किसी ने सही ही कहा हैं, कि बुरा समय और आने वाला खतरा पूछ कर नहीं आता| अतः इसके लिए हमें सदैव चौकन्ना रहना चाहिए और इसलिए इस शार्ट मूवी द्वारा यही समझाया जा रहा है, कि हमेशा सजग रहिये क्योंकि हमारी ज़रा सी लापरवाही हमारे बच्चो को मुसीबत में डाल सकती हैं|

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर
और ट्विटर पर करे!

loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top
Translate »